हलवाई जैसी हरे मटर की खस्ता कचोरी अब घर पर , इन समर वेकेशन को बनाये ओर भी मज़ेदार

मटर की कचौरी एक लोकप्रिय शाकाहारी भारतीय नाश्ता है। नाश्ते में गर्मा-गरम मटर की कचौरी ( Matar ki kachori) खाने का आनंद ही कुछ और है। और हां, मटर की कचौरी रेसिपी भी बेहद आसान है। इसका जायका घर में सभी को बेहद पसंद आएगा। इसे बनाना बेहद आसान है। आप खुद खाएं या मेहमानों के लिए बनाएं यह बहुत स्‍वादिष्‍ट लगती हैं और कम समय में ही बन जाती हैं। तो इस बार अपनों के लिए बनाइए हरे मटर की चटपटी कचौरी। आइए जानें इसे बनाने का तरीका —

मटर की कचौरी बनाने के लिए सामग्री

  • गेहूं का आटा- 400 ग्राम
  • हरी मटर के दाने- ½ कप पिसे हुए
  • हरा धनिया- 1 चम्‍मच
  • तेल- 2 बड़े चम्‍मच
  • नमक- स्वादानुसार
  • अदरक 1 छोटा चम्‍मच बारीक कटी हुई
  • हरी मिर्च- 2 बारीक कटी हुई
  • जीरा- ¼ छोटी चम्मच
  • हींग- 1 चुटकी
  • तेल- कचौरियां तलने के लिए

बनाने की विधि भरावन के लिए:- 

  • इसके बाद कड़ाही में तेल डालकर गरम कर लें।
  • इसमें हींग और जीरा डाल कर इसे ब्राउन होने के बाद इसमें हरी मिर्च, अदरक डालकर इसको थोड़ा सा भून लीजिए ।
  • अब इसमें पिसी हुई मटर डाल दें।
  • साथ ही इसमें नमक और हरा धनिया भी डाल दें।
  • इसके बाद इसे अच्छी तरह चलाएं और कुछ देर भून लें।

आटा बनाने की विधि:- 

  • आटे में नमक और 2 चम्‍मच तेल डालकर अच्छी तरह मिला लें।
  • फिर इस आटे को अच्‍छी तरह गूंथ लें।
  • इसके बाद आटे को कुछ देर के लिए सैट होने को रख दीजिए।

अब कचौरियां तैयार करने की विधि:-

  • गुथे हुए आटे में से छोटे नींबू के बराबर आटा लें और उसे बेल कर चपटा कर लें।
  • इसके बाद एक छोटा चम्मच भरावन सामग्री बेली हुई पूरी के बीच में रखें और चारों ओर आटे की लोई उठाकर दबाते हुए
  • फिर उंगलियों से दबा कर कचौरी को बंद कर दें।
  • एक कढ़ाई में कचौरी तलने भर का तेल डालें और गरम करें ।
  • जब तेल मध्यम गरम हो जाए, तो तैयार मटर कचौरी को धीरे से और सावधानी से गरम तेल में डालिये। चारों ओर से कचौरी को सुनहरा भूरा होने तक तलें।
  • इन्हें किचन पेपर टिश्यू पर निकाल लें ताकि अतिरिक्त तेल निकल जाए।
  • मटर की कचौरी(Matar की kachori) को धनिये की चटनी या पुदीने की चटनी या इमली की चटनी के साथ गरमा गरम परोसिये और खाइये.

 

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *