बंगाल का फेमस डेजर्ट मिष्टी दोई , क्या अपने कभी बनाया अगर नहीं तो एक जरूर बनाये

मिष्टी दोई एक क्लासिक बंगाली मिठाई है जिसे दूध, दही और गुड़ या चीनी से बनाया जाता है। ये बंगाली मिठाई, मिष्टी दोई पूरे भारत में प्रसिद्ध है। पारंपरिक रूप से मिष्टी दोई बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला गुड़ ताड़ का गुड़ है। बंगाली भाषा में ‘मिष्टी’ का मतलब मीठा और ‘दोई’ का मतलब दही होता है। हिंदी भाषा में मिष्टी दोई को मीठा दही कहा जा सकता है। मिष्टी दोई रेसिपी और खुद को मिठाई के रूप में परोसें। आप इसे अपने त्योहारों के लिए बना सकते हैं या अपने दैनिक भोजन के बाद इसका सेवन कर सकते हैं । आइए जानते हैं घर पर ही कैसे बनाया जाता है मिष्टी दोई।

मिष्टी दोई बनाने के लिए सामग्री :-

  • दूध – 750 मिलीलीटर
  • चीनी- 7½ टेबल स्पून
  • पानी – ¼ कप
  • ताजा दही – ½ कप
  • कटे हुए बादाम

कैसे बनाना है मिष्टी दोई रेसिपी :-

  • सबसे पहले एक मोटे तले के नॉनस्टिक पैन में दूध गर्म करें। दूध को इतना उबालें, कि यह आधा रह जाए।
  • एक दूसरे पैन में चीनी डालें।
  • कम आंच रखते हुए चीनी को गर्म होने दें और धीरे धीरे पिघलने दें।
  • जब चीनी हल्का सुनहरा और चीनी में से बुलबुले दिखने लगे , चीनी में एक बड़ा चम्मच पानी डालें।
  • गैस बंद कर, इसे लगातार हिलाते रहें, ताकि चीनी जलें नहीं।
  • अब आधा रह गया दूध में चीनी की चासनी धीरे धीरे मिला ले ।
  • दूध में चाशनी मिलाने के बाद गैस बंद कर दें।
  • दूध को हल्का ठंडा होने दें। फिर फेंटा हुआ दही डालें, अच्छी तरह मिलाएँ ।
  •  ​इसके बाद इसे सर्व करने वाले बर्तन या मटको में डालें। इन मटको को एल्युमिनियम फॉइल से कवर करे ।
  • ढक कर 8 घंटे के लिए या पूरी तरह से सेट होने तक गर्म स्थान पर सेट होने दें।
  • फिर अच्छी मलाईदार बनावट पाने के लिए 2 घंटे के लिए सर्द करें। कटे हुए मेवों से भी सजाएं।

नोट

  • ध्यान रहें कि रेसिपी के लिए हमेशा ताजा दही का ही इस्तेमाल करें।
  • हमेशा फुल फैट दूध या फुल क्रीम दूध का प्रयोग करें।
  • इसे जलने से बचाने के लिए गैस बंद करना न भूलें।
  • दही को अच्छे से मथे ताकि किसी तरह की कोई गुठले न बनें।
  • आप कुछ फल और मेवे मिला सकते हैं।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *