लहसुन स्टोर करने का शानदार तरीका, साल भर तक नहीं होगा खराब

नमस्कार दोस्तों भारतीय किचन में लहसुन का भरपूर इस्तेमाल किया जाता है। यह स्वाद बढ़ाने में मदद करता है और साथ ही  सेहत के लिए भी काफी अच्छा माना जाता है। आयुर्वेद में  कच्चे  लहसुन खाने के बेहतरीन फायदे बताए गए हैं। हमारे घरों में लहसुन अधिक इस्तेमाल होने के कारण इसे ज्यादा मात्रा में खरीद लेते हैं, लेकिन स्टोर सही तरीके से ना होने के कारण यह बहुत तेज़ी से सुख जाते है

चलिए देखते है कुछ टिप्स जिससे आप लहसुन को साल भर आराम से स्टोर कर सकते है ।

  • हमे लहसुन को कमरे के तापमान में स्टोर करना चाहिए। कोई  हवादार जाली वाली टोकरी में लहसुन रखें।
  • अगर आपके पास तना सहित लहसुन है तो आपस में तनों को बांध दें और किसी अंधेरे जगह पर टांग दें।
  • अगर लहसुन को आपने  फ्रिज के अंदर रखा है तो , हमेशा क्रिस्पर ड्रॉर पर रखना चाहिए, क्योंकि यहां पर हमेशा नमी रहती है। फिर इन्हें इस्तेमाल करते समय ही बाहर निकाले। क्योंकि अगर आपने इन्हें ठंड से बाहर निकालकर रखा तो कमरे के तापमान में यह जल्दी अंकुरित हो जाते हैं।
  • आपने अगर लहसुन के कंद तोड़ने के बाद फ्रिज के अंदर एक एयरटाइट कंटेनर में भरकर रखें। इसके साथ ही इनका इस्तेमाल जल्द कर लें।
  • आप लहसुन को अंकुरित होने से बचाने के लिए नमी और सूर्य की रोशनी से दूर रखें।
  • अगर आपने घर पर लहसुन उगाएं है अपने किचन गार्डन में , तो उन्हें खोदने के बाद फ्रिज में रख दें।
  • कई लोग होते है जो लहसुन को फ्रिज में रखना पसंद नहीं करते हैं। उनक मानना है कि इससे लहसुन का स्वाद बदल जाता है। ऐसे में अगर आप लहसुन को बर्बाद होने से बचाना चाहते हैं चो लहसुन को बिना छिले हुए एल्यूमिनियम फॉयल या फिर प्लास्टिक व्रैप पर लपेटकर प्लास्टिक बैग में भरपर फ्रिजर में रख सकते हैं।
  • बहुत लोग लहसुन को तेल में डालकर भी रखते  है, लेकिन उसमें क्लॉस्ट्रीडियम बोटुलिनम नामक बैक्टीरिया उत्पन्न हो जाता है। जो सेहत के लिए काफी खतरानक हो सकता है। लेकिन अगर तेल में डुबे हुए लहसुन को फ्रीज में रखा जाए तो इस बैक्टीरिया से बचा जा सकता है। तेल में लहसुन की कली रखने के लिए सबसे पहले इन्हें अच्छी तरह से छिल लें। इसके बाद कांच या फिर प्लास्टिक के कंटेनर में तेल भरकर उसमें लहसुन डाल दें और खूब कस दें। इसके बाद सीधे फ्रिजर में रख दें।

 

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *